15th August Speech 2022 (Independence Day) | 15 अगस्त भाषण 2022 (स्वतंत्रता दिवस)

15th August Speech 2022Independence Day हर साल 15 अगस्त को हमारे देश में बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। इस वर्ष 2022 ने हमारे देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे कर लिए हैं और हम देश की आजादी के 76वें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं। इस बार पूरे देश में 75वें वर्ष के पूरा होने के उपलक्ष्य में भारत सरकार द्वारा अमृत महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है।

इस बार भी हर साल की तरह देश के सभी स्कूलों, कॉलेजों, कार्यालयों और अन्य संस्थानों में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा जैसे निबंध प्रतियोगिताएं, भाषण प्रतियोगिताएं आदि। अगर आप भी अपने स्कूल में स्पीच कॉम्पिटिशन में हिस्सा लेने जा रहे हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए काम आएगा। आप यहां 15 अगस्त को स्कूली बच्चों के लिए शॉर्ट स्पीच के लिए हैं इसे तैयार करने के लिए, आप यहां दी गई सामग्री की मदद ले सकते हैं।

15th August Speech 2022

15th August Speech 2022 (Independence Day)

आदरणीय मुख्य अतिथि महोदय, प्राचार्य महोदय, सभी आदरणीय शिक्षकों और यहां उपस्थित सभी माता-पिता और मेरे प्रिय मित्रों, आज मैं आपको 15 अगस्त के इस शुभ अवसर पर शुभकामनाएं देता हूं। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि इस दिन हमारे देश को ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता संग्राम जीतने के बाद स्वतंत्रता मिली थी। हमारे देश के कई वीर सैनिकों ने इस स्वतंत्रता संग्राम में अपने प्राणों की आहुति दी थी। जिसके बाद हमें वर्ष 1947 में आजादी मिली और तब से, 15 अगस्त का दिन हर साल एक राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मनाया जाता है।

भारत 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता से पहले कुछ समय के लिए ब्रिटिश शासन के अधीन था। इसे ब्रिटिश उपनिवेश के रूप में जाना जाता था। इस दौरान अंग्रेजों ने भारतीय नागरिकों पर काफी अत्याचार किए, जिसके चलते नागरिकों ने समय के साथ विरोध किया, लेकिन हालात दिन-ब-दिन बहुत खराब होते गए।

आजादी की मांग को दबाने के लिए, ब्रिटिश शासन ने आम लोगों के लिए और भी बदतर स्थिति पैदा कर दी। इसके बावजूद देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने हार नहीं मानी और आजादी के रास्ते पर चलते हुए शहीद हो गए। इन शहीदों के प्रयासों का ही नतीजा है कि आज हम आजाद भारत में जी रहे हैं।

देश की आजादी के बाद एक ऐसा संविधान बना जिसके द्वारा हमारे देश में स्वशासन की व्यवस्था तैयार की गई। ताकि हमारा देश भविष्य में कभी स्वतंत्र न हो सके। देश के विकास के लिए विभिन्न कार्य शुरू किए गए। इसके साथ ही हर साल Independence Day मनाया जाने लगा।

स्वतंत्रता दिवस इस दिन प्रधानमंत्री दिल्ली के लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं और हमारे देश के राष्ट्रपति राष्ट्र के नाम संबोधन जारी करते हैं। प्रत्येक सरकारी संस्थानों और शैक्षिक संस्थानों में विभिन्न गतिविधियों और कार्यक्रमों का आयोजन करता है। और हर कोई सक्रिय रूप से उनमें भाग लेता है जैसे – देशभक्ति के गीत, नाटक, भाषण प्रतियोगिताएं, निबंध लेखन, आदि गाना।

आज इस अवसर पर देश के लिए शहीद हुए सभी वीरों और देशभक्तों को याद करते हुए हम उन्हें नमन करते हैं। जिन्होंने 200 साल की गुलामी के बाद देश को अंग्रेजों से आजाद कराया। हम इनमें से कुछ देशभक्तों के नाम बचपन से ही सुनते आ रहे हैं जैसे – मोहनदास करमचंद गांधी, सुभाष चंद्र बोस, चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, मंगल पांडे, मोतीलाल नेहरू, विनायक दामोदर सावरकर आदि।

स्वतंत्रता सेनानियों के अथक प्रयासों से आज हम यहां हैं। इसलिए इन सभी को श्रद्धांजलि देते हुए हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम इन लड़ाकों के सपनों का भारत बना सकें।

मैं आप सभी को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मुझे अपने विचार व्यक्त करने का अवसर दिया और अंत में इन कुछ पंक्तियों के साथ अपना भाषण समाप्त किया।

इस तिरंगे को सलाम,
जिस पर आप को गर्व है,
हमेशा अपने सिर को ऊंचा रखें,
जब तक दिल में जान है।

Short speech on 15 august

महोदय, यहां उपस्थित आदरणीय मुख्य अतिथि, प्राचार्य महोदय, सभी शिक्षण स्टाफ और मेरे प्रिय मित्रों, आप सभी को एक सुप्रभात और स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

इस वर्ष हम देश की आजादी के 75वें वर्ष के पूरा होने के उपलक्ष्य में स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। आज से 75 साल पहले हमारे देश को 15 अगस्त 1947 को आजादी मिली थी। इस दिन सभी देशवासी इसे राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाते हैं। देश के कोने-कोने में आजादी का जश्न मनाया जाता है।

इस दिन दिल्ली के लाल किले पर प्रधानमंत्री द्वारा हमारा राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराया जाता है। साथ ही राष्ट्रपति Independence Day की पूर्व संध्या पर हर साल पूरे देश को संबोधित भी करते हैं। और आजादी देने वाले वीर सैनिकों और देशभक्तों को 21 तोपों की सलामी भी दी जाती है। इसके साथ ही सभी शिक्षण संस्थानों, सरकारी कार्यालयों आदि में इस दिन कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

हर साल की तरह इस बार भी हम 15 अगस्त को बड़ी धूमधाम से मना रहे हैं। देश की आजादी का जश्न इस साल इस तरह से मनाया जा रहा है, पीएम मोदी द्वारा शुरू किए गए ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के तहत नागरिकों ने अपने घरों पर तिरंगा फहराया है। जैसा कि हम बचपन से जानते हैं कि हमारा देश 200 वर्षों से अंग्रेजों का गुलाम रहा है। और इस गुलामी की बेड़ियों को तोड़ने के लिए हमारे देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने हर संभव प्रयास किए और जरूरत पड़ने पर इसके लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी। आज उनके बलिदान के कारण हमें स्वतंत्र भारत में रहने का अवसर मिला है।

15 अगस्त को सभी नागरिकों को संकल्प लेना चाहिए कि हम अपने शहीदों के बलिदान को कभी व्यर्थ नहीं जाने दें। इसके लिए हमें अपने स्तर पर देश के विकास के विभिन्न पहलुओं पर ध्यान देना होगा। ताकि हमारा देश विकास के रास्ते पर आगे बढ़ सके। देश के विकास में बाधक बनने वाली समस्याओं पर भी ध्यान देना होगा। जैसे – प्रदूषण, बढ़ती जनसंख्या, बेरोजगारी आदि। ये सभी समस्याएं किसी न किसी तरह एक-दूसरे से जुड़ी हुई हैं। अगर हर कोई अपने स्तर पर उनसे निपटना शुरू कर दे और अपना प्रयास जारी रखे तो जल्द ही हमारा देश पहले से बेहतर स्थिति में आ जाएगा।

इसके साथ ही हमें अपनी संस्कृति और सांस्कृतिक विरासत को भी बनाए रखना होगा। हमारा देश विविधता में एकता के लिए जाना जाता है। यहां विभिन्न धर्मों और संस्कृतियों के लोग रहते हैं और यह केवल हमारे देश में ही है। इन सबको और भी बनाए रखने के लिए जरूरी है कि हम सब बिना किसी जाति, धर्म या ऐसे किसी बंधन के साथ रहें। इससे हमारा देश एकजुट रहेगा। हमें अपने अतीत से सीखने की जरूरत है कि कैसे हमारे देश को इस आधार पर खंडित किया गया था जब पाकिस्तान और बांग्लादेश जैसे देशों का निर्माण किया गया था अगर हम ऐसे ही अलग होते रहे तो किसी का भला नहीं होगा।

अंत में, मैं आप सभी को बहुत धैर्य के साथ मेरे विचारों को सुनने के लिए धन्यवाद देता हूं। और इसके साथ, मैं इन पंक्तियों के साथ शब्दों को समाप्त करता हूं।

देश का गौरव,
हम देश के बच्चे हैं।
तीन रंगों से रंगा तिरंगा,
यह हमारी पहचान है।

FAQs

Q1.15 अगस्त को झंडा कहाँ फहराया जाता है?

हर साल 15 अगस्त/स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में लाल किले पर झंडा फहराया जाता है।

Q2.हम 15 अगस्त क्यों मनाते हैं?

सभी भारतीय 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाते हैं। इसी दिन हमारा देश आजाद हुआ था, जिसके सम्मान में स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है।

Q3.स्वतंत्रता दिवस पर निबंध कैसे लिखें?

अगर आप भी स्वतंत्रता दिवस पर निबंध लिखना चाहते हैं तो इस लेख में दिए गए स्वतंत्रता दिवस के भाषणों को पढ़कर अपना भाषण तैयार कर सकते हैं।

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *